चरखारी महोबा 20 अप्रैल। चरखारी थाना क्षेत्र अन्तर्गत ग्राम सबुआ में एक महिला ने अपने ही 2 वर्षीय बच्चे का गला घोंट कर मार डाला और उसके बाद खुद ने अपनी ही साड़ी से फांसी का फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस व तहसीलदार चरखारी ने घटना स्थल का निरीक्षण किया तथा घटना के बारे में जानकारी एकत्र करना शुरू कर दिया है।

                                                      मृतका सपना ( फाइल फोटो)

 

                                            मृतक बालक उमेश(फाईल फोटो)

 

प्राप्त जानकारी के अनुसार सबुआ ग्राम निवासी रविन्द यादव अपनी फोर व्हीलर लेकर बुकिंग पर गया था तथा सास ससुर घर के बाहर थे तभी अकेले घर में रविन्द्र की पत्नी सपना उम्र 25 वर्ष ने पहले अपने दो वर्षीय बच्चे बाबू का गला घोंटकर मार डाला और उसके बाद खुद को कमरे में बन्द करते हुए फांसी लगा ली जिससे उसकी दर्दनाक मौत हो गयी। महिला की मौत की सूचना पर परिवार व गांव में कोहराम मच गया तथा घटना की सूचना स्थानीय प्रशासन व पुलिस को दी गयी। सूचना पाकर तहसीलदार चरखारी विपिन कुमार व एस आई अनिल कुमार गुप्ता ने घटना स्थल का निरीक्षण किया तथा पुलिस लाश का मंचनामा भरते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बताते चलें कि रविन्द्र की तकरीब तीन साल पहले ही सरीला में शादी हुई थी तथा रोजगार की तलाश में उसने एक पुरानी फोर व्हीलर वाहन खरीदते हुए बुकिंग पर रोजी रोटी चलाता था तथा गांव छोड़कर पति पत्नी चरखारी में ही रहते थे। कल ही पति पत्नी गांव गए थे और इसी दौरान बुधवार को पति वाहन की बुकिंग पर कहीं बाहर गया था तथा सास ससुर भी घर में नहीं थे तभी महिला ने अपने ही बच्चे का गला घोंटा और खुद फांसी लगा ली। फिलहाल हत्या व आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है।